जी-20 देशों में भारत सबसे तेजी से बढ़ रहा आगे: प्रधानमंत्री मोदी

Share This Story

पीएम मोदी ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 80 हजार करोड़ की परियोजनाओं की ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का किया उद्घाटन
देश के नामी उद्योगपति गौतम अडानी, कुमार मंगलम बिड़ला, निरंजन हीरानंदानी, मैथ्यू आइरीज भी हुए शामिल

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ने कहा कि मौजूदा समय में दुनिया मजबूत साथी की तलाश में है। भारत के पास ही वह ताकत है। आज जी-20 में भारत सबसे तेजी से आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार को यहां इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (जीबीसी) थ्री का उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे। इस मौके पर उन्होंने 80 हजार करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश काशी का सांसद होने के नाते निवेशकों का स्वागत किया है। उप्र के युवा शक्ति पर उन्होंने भरोसा जाताया है। यहां के नौजवानों में यह शक्ति है। उनकी शक्ति आपके सभी सपनों को सच होने में मददगार साबित होगा। उद्यमियों से कहा कि मै मोह नहीं छोड़ सकता। आप लोग बहुत व्यस्त रहते हैं लेकिन काशी जरूर आइए। काशी बहुत बदल गयी है। 80 हजार करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्तावों के एमओयू साइन हुए हैं। आज के इस अवसर पर के लिए यूपी के नौजवानों को बधाई दूंगा। इस आयोजन से सबसे अधिक उन्हें ही लाभ होगा। हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। अगले 25 वर्ष नये लक्ष्यों को प्राप्त करने का अमृत काल है। आज दुनिया में जो वैश्विक परिस्थितियां बनी हैं, वह हमारे लिए अवसर है। दुनिया भरोसेमंद साथी तलाश रही है। उस पर खरा उतरने की ताकत सिफ भारत में है। इस दौर में भी भारत रुका नहीं है। बल्कि अपनी ग्रोथ को और बढ़ा दिया। जी-20 देशों में भारत सबसे तेजी से आगे बढ़ रहा है। भारत दुनिया का सबसे अधिक इनर्जी कन्ज्यूमर वाला देश है।

यूपी में जब से डबल इंजन की सरकार बनी है, तबसे तेजी से काम हो रहा है। कानून व्यवस्था ठीक हुई है। यूपी की जनता का भरोसा योगी सरकार पर बढ़ा है। उसी प्रकार से उद्योगपतियों का भरोसा भी बढ़ा है। उद्यामियों ने अभी तारीफ भी की है। वह निवेश कर रहे हैं। मै भी एक सांसद के नाते उप्र के उस सामर्थ्य को महसूस किया। सरकार के जुड़े सभी ब्यूरोक्रेट्स, छोटे बड़े लोगों को बधाई देता हूं। यूपी की एक व्यक्ति की बेहतरी भारत के हर छठे व्यक्ति की ग्रोथ है। अगले दस सालों में उप्र भारत का ग्रोथ इंजन आने वाला है। एक ऐसा प्रदेश जहां पांच लाख से अधिक दर्जन भर से ज्यादा शहर हों, हर जिले का अपना विशेष उत्पाद हो, एक्सप्रेसवे हो, गंगां जमुना सरयू जैसी नदियों का आशीर्वाद प्राप्त हो उसे विकास से कौन रोक सकता है। प्रधानमंत्री मोदी ने योगी सरकार के बजट की भी सराहना की।

दिग्गज उद्योगपतियों ने योगी सरकार की सराहना की

समारोह में देश के शीर्ष उद्योग जगत के नेता शामिल हो रहे हैं। आदित्य बिड़ला समूह के अध्यक्ष कुमार मंगलम बिड़ला, अडाणी समूह के अध्यक्ष व एमडी गौतम अडानी, आईटीसी लिमिटेड के अध्यक्ष व एमडी संजीव पुरी, हीरानंदानी ग्रुप के एमडी निरंजन हीरानंदानी, जिंदल ग्रुप के चेयरमैन और एमडी सज्जन जिंदल, लुलु ग्रुप के एमडी युसूफ अली, वीपी एयर लिक्विड के मैथ्यू आइरीज़ जैसे उद्यमी शामिल हो रहे हैं। अडानी, हीरानंदानी और विड़ला जैसे उद्यमियों ने मंच से अपनी बात भी रखी। सभी उद्यमियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कार्यशैली की सराहना की।

इन क्षेत्रों में हो रहा निवेश

योगी सरकार-01 के दौरान 2018 में हुए इंवेस्टर्स समिट में चार लाख 68 हजार करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आए थे। उसके बाद दूसरी जीबीसी हुई। अब जीबीसी थ्री में 80 हजार करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव धरातल पर उतारे जा रहे हैं। जीबीसी थ्री में 80 हजार 224 हजार करोड़ रुपये के निवेश में सर्वाधिक 29 प्रोजेक्ट 40 हजार 106 करोड़ के हैं। यह सभी प्रोजेक्ट पांच सौ करोड़ रुपये से अधिक के हैं। ऐसे ही 200 से 500 करोड़ के बीच 15 हजार 614 करोड़ के 52 प्रोजेक्ट हैं। 50 करोड़ से 200 करोड़ रुपये तक 9,959 करोड़ के 112 प्रोजेक्ट हैं। 10 से 50 करोड़ के 230 प्रोजेक्ट 5,068 करोड़ रुपये के हैं। 10 करोड़ से कम के 972 प्रोजेक्ट 2,757 करोड़ रुपये के हैं और इंफ्रास्ट्रक्चर को सहयोग करने वाले 5,408 करोड़ रुपये के 11 प्रोजेक्ट हैं।

Join Channels

Share This Story